AAJ KOI PYAR SE LYRICS IN HINDI 1966

AAJ KOI PYAR SE DIL KI BAATEIN
GOLDEN LYRICS IN HINDI 1966

❛ आज कोई प्यार से…❜

आज कोई प्यार से, दिल की बातें कह गया, हाय
मैं तो आगे बढ़ गयी, पीछे ज़माना रह गया, हाय राम
आज कोई प्यार से… ||ध्रु.||
चीरकर पत्थर का सीना, झूमकर झरना बहा
इसमें इक तूफ़ान था, सौ करवटें लेता हुआ
आज मौजों की रवानी में, किनारा बह गया, हाय
इक किनारा बह गया
मैं तो आगे बढ़ गयी, पीछे ज़माना रह गया, हाय राम
आज कोई प्यार से, दिल की बातें कह गया, हाय राम
आज कोई प्यार से… ||१||
उनके होंटों पर हँसी, हाय खिल के जब लहरा गयी
वो भी कुछ घबरा गये, मैं भी कुछ शरमा गयी
वो भी कुछ घबरा गये, और मैं भी कुछ शरमा गयी
कुछ नहीं कहते हुए भी, कोई सब कुछ कह गया, हाय
कोई सब कुछ कह गया
मैं तो आगे बढ़ गयी, पीछे ज़माना रह गया, हाय राम
आज कोई प्यार से, दिल की बातें कह गया, हाय राम
आज कोई प्यार से… ||२||
फ़िल्म:- सावन की घटा (१९६६)
गीतकार:- एस. एच. बिहारी
संगीतकार:- ओ. पी. नैय्यर
गायिका :- आशा भोसले

❛ आज कोई प्यार से…❜

आज कोई प्यार से,
दिल की बातें कह गया, हाय
मैं तो आगे बढ़ गयी,
पीछे ज़माना रह गया, हाय राम
आज कोई प्यार से… ||ध्रु.||

चीरकर पत्थर का सीना,
झूमकर झरना बहा
इसमें इक तूफ़ान था,
सौ करवटें लेता हुआ
आज मौजों की रवानी में,
किनारा बह गया, हाय
इक किनारा बह गया
मैं तो आगे बढ़ गयी,
पीछे ज़माना रह गया, हाय राम
आज कोई प्यार से,
दिल की बातें कह गया, हाय राम
आज कोई प्यार से… ||१||

उनके होंटों पर हँसी,
हाय खिल के जब लहरा गयी
वो भी कुछ घबरा गये,
मैं भी कुछ शरमा गयी
वो भी कुछ घबरा गये,
और मैं भी कुछ शरमा गयी
कुछ नहीं कहते हुए भी,
कोई सब कुछ कह गया, हाय
कोई सब कुछ कह गया
मैं तो आगे बढ़ गयी,
पीछे ज़माना रह गया, हाय राम
आज कोई प्यार से,
दिल की बातें कह गया, हाय राम
आज कोई प्यार से… ||२||

फ़िल्म:- सावन की घटा (१९६६)
गीतकार:- एस. एच. बिहारी
संगीतकार:- ओ. पी. नैय्यर
गायिका :- आशा भोसले

DOWNLOAD PDF आज कोई प्यार से.सावन की घटा (१९६६)

One Response

  1. zmozero teriloren November 23, 2022

Leave a Reply