Aanchal mein saja lena kaliyan lyrics 1963

Aanchal mein saja lena kaliyan
Golden Lyrics in hindi 1963

❛ आँचल में सजा लेना कलियाँ…❜

(हमिंग) आऽऽऽ
आँचल में सजा लेना कलियाँ, ज़ुल्फ़ों में सितारे भर लेना
ऐसे ही कभी जब शाम ढले, तब याद हमें भी कर लेना
आँचल में सजा लेना कलियाँ… ||ध्रु.||
आया था यहाँ बेगाना-सा (२) चल दूँगा कहीं दीवाना-सा (२)
दीवाने की ख़ातिर तुम कोई, इल्ज़ाम ना अपने सर लेना
ऐसे ही कभी जब शाम ढले, तब याद हमें भी कर लेना
आँचल में सजा लेना कलियाँ… ||१||
रस्ता जो मिले अंजान कोई (२) आ जाये अगर तूफ़ान कोई (२)
अपने को अकेला जान के तुम, आँखों में ना आँसू भर लेना
ऐसे ही कभी जब शाम ढले, तब याद हमें भी कर लेना
आँचल में सजा लेना कलियाँ, ज़ुल्फ़ों में सितारे भर लेना
आँचल में सजा लेना कलियाँ… ||२||
फ़िल्म:- फिर वो ही दिल लाया हूँ (१९६३)
गीतकार:- मजरूह सुल्तानपुरी
संगीतकार:- ओ. पी. नैय्यर
गायक:- मोहम्मद रफ़ी

❛ आँचल में सजा लेना…❜

(हमिंग) आऽऽऽ
आँचल में सजा लेना कलियाँ,
ज़ुल्फ़ों में सितारे भर लेना
ऐसे ही कभी जब शाम ढले,
तब याद हमें भी कर लेना
आँचल में सजा लेना कलियाँ… ||ध्रु.||

आया था यहाँ बेगाना-सा (२)
चल दूँगा कहीं दीवाना-सा (२)
दीवाने की ख़ातिर तुम कोई,
इल्ज़ाम ना अपने सर लेना
ऐसे ही कभी जब शाम ढले,
तब याद हमें भी कर लेना
आँचल में सजा लेना कलियाँ… ||१||

रस्ता जो मिले अंजान कोई (२)
आ जाये अगर तूफ़ान कोई (२)
अपने को अकेला जान के तुम,
आँखों में ना आँसू भर लेना
ऐसे ही कभी जब शाम ढले,
तब याद हमें भी कर लेना
आँचल में सजा लेना कलियाँ,
ज़ुल्फ़ों में सितारे भर लेना
आँचल में सजा लेना कलियाँ… ||२||

फ़िल्म:- फिर वो ही दिल लाया हूँ (१९६३)
गीतकार:- मजरूह सुल्तानपुरी
संगीतकार:- ओ. पी. नैय्यर
गायक:- मोहम्मद रफ़ी

PDF DOWNLOAD आँचल में सजा लेना कलियाँ.फिर वो ही दिल लाया हूँ (१९६३)

Leave a Reply