AANKHON MEIN KYA JI LYRICS 1957

AANKHON MEIN KYA JI
GOLDEN LYRICS IN HINDI 1957

❛ आँखों में क्या जी…❜

F:- ओ ओ ओ ओऽऽऽ ओ ओऽऽऽ (२)
[ F:- आँखों में क्या जी
M:- रुपहला बादलऽऽऽ
F:- बादल में क्या जी
M:- किसी का आँचलऽऽऽ आँचल में क्या जी
F:- अजब-सी हलचलऽऽऽ ] (२)
आऽऽऽऽऽऽऽ आऽऽऽऽऽऽ… ||ध्रु.||
F:- रंगीं है मौसम
M:- तेरे दम की बहार हैऽऽऽ
F:- फिर भी है कुछ कम
M:- बस तेरा इन्तज़ार हैऽऽऽ
F:- ओ रंगीं है मौसम
M:- तेरे दम की बहार हैऽऽऽ
F:- फिर भी है कुछ कम
M:- बस तेरा इन्तज़ार हैऽऽऽ
F:- हुँम् देखने में भोले हो पर हो बड़े चंचल
M:- आँचल में क्या जी
F:- अजब-सी हलचलऽऽऽ, आँखों में क्या जी
M:- रुपहला बादलऽऽऽ
F:- बादल में क्या जी
M:- किसी का आँचलऽऽऽ, आँचल में क्या जी
F:- अजब-सी हलचल, आऽऽऽऽऽऽऽ आऽऽऽऽऽऽ… ||१||
F:- झुकतीं हैं पलकें
M:- झुकने दो और झूम केऽऽ
F:- उड़ती हैं ज़ुल्फ़ें
M:- उड़ने दो होंठ चूम केऽऽ
F:- ओ झुकतीं हैं पलकें
M:- झुकने दो और झूम केऽऽ
F:- उड़ती हैं ज़ुल्फ़ें
M:- उड़ने दो होंठ चूम केऽऽ
F:- हुँम् देखने में भोले हो पर हो बड़े चंचल
M:- आँचल में क्या जी
F:- अजब-सी हलचलऽऽऽ… ||२||
F:- झूमें लहरायें
M:- नैना मिल जायें नैन से
F:- साथी बन जायें
M:- रस्ता कट जाये चैन से
F:- ओ झूमें लहरायें
M:- नैना मिल जायें नैन से
F:- साथी बन जायें
M:- रस्ता कट जाये चैन से
M:- देखने में भोली हो पर हो बड़ी चंचल
हुँम् आँचल में क्या जी
F:- अजब-सी हलचलऽऽऽ, आँखों में क्या जी
M:- रुपहला बादलऽऽऽ
F:- बादल में क्या जी
M:- किसी का आँचलऽऽऽ, आँचल में क्या जी
F:- अजब-सी हलचलऽऽऽ … ||३||
फ़िल्म:- नौ दो ग्यारह (१९५७)
गीतकार:- मजरूह सुल्तानपुरी
संगीतकार:- एस. डी. बर्मन
गायक:- किशोर कुमार, आशा भोसले

❛ आँखों में क्या जी…❜

F:- ओ ओ ओ ओऽऽऽ ओ ओऽऽऽ (२)
[ F:- आँखों में क्या जी
M:- रुपहला बादलऽऽऽ
F:- बादल में क्या जी
M:- किसी का आँचलऽऽऽ आँचल में क्या जी
F:- अजब-सी हलचलऽऽऽ ] (२)
आऽऽऽऽऽऽऽ आऽऽऽऽऽऽ… ||ध्रु.||

F:- रंगीं है मौसम
M:- तेरे दम की बहार हैऽऽऽ
F:- फिर भी है कुछ कम
M:- बस तेरा इन्तज़ार हैऽऽऽ
F:- ओ रंगीं है मौसम
M:- तेरे दम की बहार हैऽऽऽ
F:- फिर भी है कुछ कम
M:- बस तेरा इन्तज़ार हैऽऽऽ
F:- हुँम् देखने में भोले हो पर हो बड़े चंचल
M:- आँचल में क्या जी
F:- अजब-सी हलचलऽऽऽ, आँखों में क्या जी
M:- रुपहला बादलऽऽऽ
F:- बादल में क्या जी
M:- किसी का आँचलऽऽऽ, आँचल में क्या जी
F:- अजब-सी हलचल, आऽऽऽऽऽऽऽ आऽऽऽऽऽऽ… ||१||

F:- झुकतीं हैं पलकें
M:- झुकने दो और झूम केऽऽ
F:- उड़ती हैं ज़ुल्फ़ें
M:- उड़ने दो होंठ चूम केऽऽ
F:- ओ झुकतीं हैं पलकें
M:- झुकने दो और झूम केऽऽ
F:- उड़ती हैं ज़ुल्फ़ें
M:- उड़ने दो होंठ चूम केऽऽ
F:- हुँम् देखने में भोले हो पर हो बड़े चंचल
M:- आँचल में क्या जी
F:- अजब-सी हलचलऽऽऽ… ||२||

F:- झूमें लहरायें
M:- नैना मिल जायें नैन से
F:- साथी बन जायें
M:- रस्ता कट जाये चैन से
F:- ओ झूमें लहरायें
M:- नैना मिल जायें नैन से
F:- साथी बन जायें
M:- रस्ता कट जाये चैन से
M:- देखने में भोली हो पर हो बड़ी चंचल
हुँम् आँचल में क्या जी
F:- अजब-सी हलचलऽऽऽ, आँखों में क्या जी
M:- रुपहला बादलऽऽऽ
F:- बादल में क्या जी
M:- किसी का आँचलऽऽऽ, आँचल में क्या जी
F:- अजब-सी हलचलऽऽऽ … ||३||

फ़िल्म:- नौ दो ग्यारह (१९५७)
गीतकार:- मजरूह सुल्तानपुरी
संगीतकार:- एस. डी. बर्मन
गायक:- किशोर कुमार, आशा भोसले

डाउनलोड PDF आँखों में क्या जी.नौ दो ग्यारह (१९५७)

Leave a Reply