E-book Sugam Gyaan Sangam

E-book Sugam Gyaan Sangam

दर्शकों की माँग रहा करती थी कि जो स्तोत्र आदि हैं, उनकी किताब हो। आज के समय में किताब की अपेक्षा E-book अधिक सुविधाजनक है।

इस E-book की सहायता से आप विष्णुसहस्रनाम आसानी से पढ़ सकते हैं। इसमें आये लघुशब्द मूलशब्दों के सन्धि-विच्छेदन नहीं हैं। केवल उच्चारण की दृष्टि से शब्दों के लघुरूप हैं, जिनकी सहायता से श्लोक आसानी से पढ़े जा सकते हैं। पाठकों की सुविधा के लिये भगवान् विष्णु के १००० नाम भी दर्शाये गये हैं, जिस कारण इसका स्वरूप और भी सुन्दर हो गया है। E-book में फ़ॉण्ट का आकार इतना बड़ा रखा गया है कि स्मार्टफ़ोन में भी बिना ज़ूम किये आसानी से पढ़ा जा सकता है।

निःशुल्क डाउनलोड करें

श्रीविष्णुसहस्रनामस्तोत्रम् (लघुशब्द सहित)

 

क्या आप हनुमान चालीसा के समस्त दोहे और चौपाइयों का अर्थ जानते हैं?
क्या है इसके प्रत्येक शब्द का अर्थ?
क्या आपने ग़ौर किया है कि हनुमान चालीसा में आये शब्दों का सही रूप क्या है?
क्यों मूल शब्दों के अपभ्रंश का इसमें प्रयोग किया गया है?

इस E-book में प्रत्येक दोहा और चौपाई का सरल अर्थ तो दिया ही गया है, साथ ही हर शब्द का पर्यायवाची शब्द या उस शब्द यहाँ क्या अर्थ लिया गया है, यह भी दर्शाया गया है। इसे पढ़ने के बाद हनुमान चालीसा के हर शब्द से आप भलीभाँति परिचित हो जायेंगे। अर्थसहित इस हनुमान चालीसा को पढ़ने के बाद पाठकों के मन कोई दुविधा न रहेगी।

निःशुल्क डाउनलोड करें।

सम्पूर्ण हनुमान चालीसा अर्थसहित

 

Shiv Sahasranamavali (E-book)
भगवान् शिव के १००८ नामों का मन्त्र रूप में जप इस E-book के माध्यम से नित्य किया जा सकता है। इसमें फ़ॉण्ट का आकार इतना बड़ा है कि स्मार्टफ़ोन में स्क्रोल करके बड़ी आसानी से पढ़ा जा सकता है। शिवभक्तों यह शिवसहस्रनामावलि (ई-बुक) का आराधना-पुष्प समर्पित है।

निःशुल्क डाउनलोड करें।

शिवसहस्रनामावलि

3 Comments

  1. Nelda Hollingworth December 4, 2020
  2. Abhishek Rayal Yogi January 2, 2021

Leave a Reply