Ek tu hi bharosa lyrics in hindi 2000

Ek tu hi bharosa
Golden lyrics in hindi 2000

❛ इक तू ही भरोसा…❜

ADLIB आ जाओ के सब मिल के, रब से दुआ माँगें
             जीवन में सुकूँ चाहें, चाहत में वफ़ा माँगें
             हालात बदलने में, अब देर न हो मालिक
             जो देख चुके फिर ये, अन्धेर न हो मालिक
इक तू ही भरोसा, इक तू ही सहारा
इस तेरे जहाँ में, नहीं कोई हमारा
(कोरस) [ हे ईश्वर या अल्लाह, ये पुकार सुन ले
             हे ईश्वर या अल्लाह, हे दाता ] (२)… ||ध्रु.||
हमसे न देखा जाये, बरबादियों का समाँ
उजड़ी हुई बस्ती में, ये तड़प रहे इन्साँ
(कोरस) हमसे न देखा जाये, बरबादियों का समाँ
             उजड़ी हुई बस्ती में, ये तड़प रहे इन्साँ
नन्हें जिस्मों के टुकड़े, लिये खड़ी एक माँ
बारूद के धुएँ में, तू ही बोल जायें कहाँ
(कोरस) इक तू ही भरोसा
इक तू ही सहारा
(कोरस) इस तेरे जहाँ में
नहीं कोई हमारा
(कोरस) [ हे ईश्वर या अल्लाह, ये पुकार सुन ले
             हे ईश्वर या अल्लाह, हे दाता ] (२)… ||१||
नादाँ हैं हम तो मालिक, क्यूँ दी हमें ये सज़ा
क्या है सभी के दिल में, नफ़रत का ज़हर भरा
(कोरस) नादाँ हैं हम तो मालिक, क्यूँ दी हमें ये सज़ा
             क्या है सभी के दिल में, नफ़रत का ज़हर भरा
इन्हें फिर से याद दिला दे, सबक वही प्यार का
बन जाये गुलशन फिर से, काँटों भरी दुनिया
इक तू ही भरोसा, इक तू ही सहारा
इस तेरे जहाँ में, नहीं कोई हमारा
(कोरस) [ हे ईश्वर या अल्लाह, ये पुकार सुन ले
             हे ईश्वर या अल्लाह हे दाता ] (६)
मेरी पुकार सुन लेऽऽ, हे ईश्वर या अल्लाहऽऽ
मेरी पुकार सुन लेऽऽऽ (३)… ||२||
(Chorus & Lead singer both are singing together)
फ़िल्म:- पुकार (२०००)
गीतकार:- मजरूह सुल्तानपुरी-जावेद अख़्तर
संगीतकार:- ए. आर. रहमान
गायिका:- लता मंगेशकर

❛ इक तू ही भरोसा…❜

ADLIB आ जाओ के सब मिल के, रब से दुआ माँगें
जीवन में सुकूँ चाहें, चाहत में वफ़ा माँगें
हालात बदलने में, अब देर न हो मालिक
जो देख चुके फिर ये, अन्धेर न हो मालिक

इक तू ही भरोसा, इक तू ही सहारा
इस तेरे जहाँ में, नहीं कोई हमारा
(कोरस) [ हे ईश्वर या अल्लाह, ये पुकार सुन ले
हे ईश्वर या अल्लाह, हे दाता ] (२)… ||ध्रु.||

हमसे न देखा जाये, बरबादियों का समाँ
उजड़ी हुई बस्ती में, ये तड़प रहे इन्साँ
(कोरस) हमसे न देखा जाये, बरबादियों का समाँ
उजड़ी हुई बस्ती में, ये तड़प रहे इन्साँ
नन्हें जिस्मों के टुकड़े, लिये खड़ी एक माँ
बारूद के धुएँ में, तू ही बोल जायें कहाँ
(कोरस) इक तू ही भरोसा
इक तू ही सहारा
(कोरस) इस तेरे जहाँ में
नहीं कोई हमारा
(कोरस) [ हे ईश्वर या अल्लाह, ये पुकार सुन ले
हे ईश्वर या अल्लाह, हे दाता ] (२)… ||१||

नादाँ हैं हम तो मालिक, क्यूँ दी हमें ये सज़ा
क्या है सभी के दिल में, नफ़रत का ज़हर भरा
(कोरस) नादाँ हैं हम तो मालिक, क्यूँ दी हमें ये सज़ा
क्या है सभी के दिल में, नफ़रत का ज़हर भरा
इन्हें फिर से याद दिला दे, सबक वही प्यार का
बन जाये गुलशन फिर से, काँटों भरी दुनिया
इक तू ही भरोसा, इक तू ही सहारा
इस तेरे जहाँ में, नहीं कोई हमारा
(कोरस) [ हे ईश्वर या अल्लाह, ये पुकार सुन ले
हे ईश्वर या अल्लाह हे दाता ] (६)
मेरी पुकार सुन लेऽऽ, हे ईश्वर या अल्लाहऽऽ
मेरी पुकार सुन लेऽऽऽ (३)… ||२||
(Chorus & Lead singer both are singing together)

फ़िल्म:- पुकार (२०००)
गीतकार:- मजरूह सुल्तानपुरी-जावेद अख़्तर
संगीतकार:- ए. आर. रहमान
गायिका:- लता मंगेशकर

PDF DOWNLOAD आ जाओ के सब मिल के.इक तू ही भरोसा.पुकार (२०००)

Leave a Reply