Main gaoon tum so jao lyrics 1968

MAIN GAOON TUM SO JAO
GOLDEN LYRICS IN HINDI 1968

❛ मैं गाऊँ तुम सो जाओ…❜

ल र ला ला… ल र ल र ला ला… (२)
मैं गाऊँ तुम सो जाओ (२)
सुख सपनों में खो जाओ
मैं गाऊँ तुम सो जाओ (२)
सुख सपनों में खो जाओ
मैं गाऊँ तुम सो जाओ (२)… ||ध्रु.||

[ माना आज की रात है लम्बी,
माना दिन था भारी ] (२)
पर जग बदला, बदलेगी,
इक दिन तक़दीर हमारी
उस दिन के ख़्वाब सजाओ
मैं गाऊँ तुम सो जाओ,
सुख सपनों में खो जाओ
मैं गाऊँ तुम सो जाओ (२)… ||१||

[ कल तुम जब आँखें खोलोगे,
जब होगा उजियारा ] (२)
ख़ुशियों का सन्देसा लेकर,
आयेगा समय हरकारा
मत आस के दीप बुझाओ,
मैं गाऊँ तुम सो जाओ
सुख सपनों में खो जाओ
मैं गाऊँ तुम सो जाओ
मैं गाऊँ तुम, सो जाओ ना… ||२||

[ जी करता है जीते-जी,
मैं यूँ ही गाता जाऊँ ] (२)
गर्दिश में थके हारों का,
माथा सहलाता जाऊँ
फिर इक दिन तुम दोहराओ (२)
सुख सपनों में खो जाओ
मैं गाऊँ तुम सो जाओ (२)… ||३||

फ़िल्म:- ब्रह्मचारी (१९६८)
गीतकार:- शैलेन्द्र
संगीतकार:- शंकर जयकिशन
गायक:- मोहम्मद रफ़ी

शब्दार्थ
हरकारा:- डाकिया
गर्दिश:- संकट

How to search:- गुगल पर गीत के बोल टाइप करें, उसके बाद golden lyrics या lyrics golden टाइप करें। हर गीत का PDF अन्त में उपलब्ध है।

 

❛ मैं गाऊँ तुम सो जाओ…❜

ल र ला ला… ल र ल र ला ला… (२)
मैं गाऊँ तुम सो जाओ (२)
सुख सपनों में खो जाओ
मैं गाऊँ तुम सो जाओ (२)
सुख सपनों में खो जाओ
मैं गाऊँ तुम सो जाओ (२)… ||ध्रु.||

[ माना आज की रात है लम्बी,
माना दिन था भारी ] (२)
पर जग बदला, बदलेगी,
इक दिन तक़दीर हमारी
उस दिन के ख़्वाब सजाओ
मैं गाऊँ तुम सो जाओ,
सुख सपनों में खो जाओ
मैं गाऊँ तुम सो जाओ (२)… ||१||

[ कल तुम जब आँखें खोलोगे,
जब होगा उजियारा ] (२)
ख़ुशियों का सन्देसा लेकर,
आयेगा समय हरकारा
मत आस के दीप बुझाओ,
मैं गाऊँ तुम सो जाओ
सुख सपनों में खो जाओ
मैं गाऊँ तुम सो जाओ
मैं गाऊँ तुम, सो जाओ ना… ||२||

[ जी करता है जीते-जी,
मैं यूँ ही गाता जाऊँ ] (२)
गर्दिश में थके हारों का,
माथा सहलाता जाऊँ
फिर इक दिन तुम दोहराओ (२)
सुख सपनों में खो जाओ
मैं गाऊँ तुम सो जाओ (२)… ||३||

फ़िल्म:- ब्रह्मचारी (१९६८)
गीतकार:- शैलेन्द्र
संगीतकार:- शंकर जयकिशन
गायक:- मोहम्मद रफ़ी

PDF मैं गाऊँ तुम सो जाओ.ब्रह्मचारी (१९६८)

 

 

 

 

Leave a Reply